टू स्टेप वेरीफिकेशन क्या होता है और इसके फायदे क्या है।

what is two step verification in Hindi :-आज के इस आधुनिक तकनीकी के दौर में लगभग अब सभी प्रकार के कार्य इंटरनेट के सहायता से होने लगे हैं।

इंटरनेट के वजह से ही अब मनुष्य के जीवन में काफी ज्यादा सरलताएँ आ चुकी है। ऐसे में आप सभी प्रकार के अपने महत्वपूर्ण कार्यों को जैसे कि इंटरनेट बैंकिंग , ईमेल आईडी इत्यादि कार्यों को करने के लिए आप इंटरनेट की सहायता लेते हैं।

सभी चीजें ऑनलाइन रूप में होने की वजह से इन पर हैकिंग जैसे महा संकट का भी डर लगा रहता है। यदि कोई व्यक्ति आपके किसी भी प्रकार के आवश्यक डाक्यूमेंट्स को हैक कर लेता है , तो वह आपको काफी हद तक नुकसान भी पहुंचा सकता है। अत्यधिक तकनीक के विकास से हैकिंग (how to protect important data from hacking in Hindi)

जैसे कार्य भी अब के समय में काफी हद तक संभव हो चुके हैं। अपने सभी डाटा को सुरक्षित रखने के लिए आपको टू स्टेप वेरीफिकेशन काफी हद तक हैकिंग जैसे समस्याओं को आप से दूर रखने में आपकी सहायता करता है। आज हम इस लेख के माध्यम से जानेंगे कि टू स्टेप वेरीफिकेशन क्या है और इसको प्रयोग करने के क्या-क्या फायदे हो सकते हैं।

टू स्टेप वेरीफिकेशन क्या होता है ? (What is two step verification in Hindi )

यह एक प्रकार का ऐसा फीचर है , जिसके इस्तेमाल से आप अपने किसी भी डाटा को दोहरी सुरक्षा प्रदान करते हैं। इसे टू स्टेप वेरीफिकेशन और टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन के नाम से भी जाना जाता है।

इस फीचर के इस्तेमाल के दौरान आप जब भी अपने किसी भी प्रकार के और अकाउंट में लॉगिन करते हैं , तो इस परिस्थिति में यह आपसे टू स्टेप वेरीफिकेशन आप से मांगता है।

आप इस फीचर को इनेबल किए होंगे तभी यह आपसे टू स्टेप वेरिफिकेशन मांगेगा।

अब यदि आप लॉगइन करते वक्त अपने टू स्टेप वेरीफिकेशन को पूरा नहीं कर पाते हैं , तो ऐसी परिस्थिति में आप अपने किसी भी प्रकार के अकाउंट में लॉगिन नहीं कर पाते और इसी की वजह से इसको इनेबल करने से आपको दोहरी सुरक्षा प्रदान होती है।

टू स्टेप वेरीफिकेशन को इनेबल करने के क्या फायदे हो सकते हैं (benefit of two step verification in Hindi )?

  • आपकी किसी भी प्रकार के अकाउंट को दोहरी सुरक्षा इसको इनेबल करने से मिल जाती है। जिसे आप हैकिंग जैसी समस्या से खुद को सुरक्षित रख सकते हैं।
  • इनेबल करने से आप अनऑथराइज्ड एक्सेस से भी बच सकते हैं।
  • इसको इनेबल करने से आपके सभी प्रकार के ऑनलाइन ट्रांजैक्शन सुरक्षित रूप में होते हैं।
  • यदि आपके अकाउंट का कोई भी व्यक्ति पासवर्ड या यूजरनेम जान जाता है , तो वह बिना टू स्टेप वेरीफिकेशन को पूरा किए आपके किसी भी प्रकार के अकाउंट को लॉग इन करने में असक्षम रहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *