प्रतियोगी परीक्षाओं की बेहतर तैयारी कैसे करें?

By | March 4, 2021

आज के समय में नौकरी के लिए प्रतियोगिता लगातार बढ़ती जा रही है। ऐसे में आपको प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए अच्छी रणनीति बनाने की आवश्यकता होती है। कई छात्र प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए कठिन परिश्रम और मन लगाकर पढ़ाई करते हैं लेकिन उनमें से कुछ ही लोग सफल हो पाते हैं क्योंकि उनके पास प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने की अच्छी रणनीति नहीं होती है। अगर आप भी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करते हैं तो इस आर्टिकल में हम आपको प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने के तरीकों के बारे में बताएंगे।

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए अपनाएँ ये फॉर्मूला

हर साल करोड़ों अभ्यर्थी प्रतियोगी परीक्षाएं देते हैं लेकिन उनमें से लगभग एक प्रतिशत लोग ही सफल हो पाते हैं। इसका कारण है कि उनके पास पर्याप्त रणनीति का अभाव होता है। वे कठिन परिश्रम तो करते हैं लेकिन सफलता उनके हाथ नहीं लगती है। अंत में वे निराश होकर किसी और काम में लग जाते हैं। नीचे हम आपको उन तरीकों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसको फॉलो करके आप किसी भी प्रतियोगी परीक्षा में सफल हो सकते हैं।

टाइम टेबल बनाएँ और उसको फॉलो करें

अक्सर कई प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्र मन लगाकर पढ़ाई करते हैं। उन्हें जब-जब समय मिलता है वे तब-तब पढ़ाई करने लग जाते हैं। उनका कोई निर्धारित समय नहीं होता है कि वे कब-कब कौन-कौन सा विषय और कितनी देर पढ़ेंगे। अगर आप भी ऐसा करते हैं तो आप कभी भी किसी भी प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता नहीं पा सकते हैं। अगर आपको प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता पाना है तो सबसे पहले टाइम टेबल बनाएँ और निर्धारित करें कि कब-कब कौन-कौन सा विषय पढ़ना है और कितनी देर पर पढ़ना है। इसके साथ ही महत्वपूर्ण विषयों पर अधिक समय दें और कम महत्वपूर्ण विषयों पर कम समय दें। लेकिन नियमित रूप से पढ़ाई करें और आप जिस भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं उसमें आने वाले विषयों की नियमित पढ़ाई करते रहें।

पैटर्न बनाएँ

आप जब भी किसी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करते समय नोट्स बनाते हैं तो उसे जिस तरह से किताबों में लिखा है उस तरह से कभी ना लिखें। उसे अपने शब्दों में लिखें ताकि जब भी आप उस नोट्स को पढ़ें तो उसे अच्छे से समझ सकें। किसी भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए नोट्स सबसे महत्वपूर्ण है। इसीलिए आपनोट्स अवश्य तैयार करें। अलग-अलग सब्जेक्ट की अलग-अलग नोट्स बनाएँ और उसे साफ-साफ लिखें।

कोर्स को टॉपिक के अनुसार बाँट लें

आप सभी जानते हैं कि किसी भी प्रतियोगी परीक्षा का पाठ्यक्रम काफी बड़ा होता है तो अक्सर लगता है कि इतने बड़े कोर्स को इतने कम समय में कैसे तैयार कर पाएंगे। लेकिन जब भी आप कोर्स को तैयार करने बैठें उसे टॉपिक के अनुसार या यूनिट के अनुसार अलग-अलग बाँट लें और फिर उसके नोट्स बनाकर तैयारी करें। इससे हमें उसको समझने और याद करने में आसानी होगी।

उपयुक्त स्थान पर बैठकर पढ़ाई करें

किसी भी परीक्षा में सफलता पाने के लिए सबसे बड़ी चीज है उपयुक्त स्थान का चयन। आप जहाँ भी पढ़ाई करने बैठें वहाँ कोई ऐसी चीज ना हो जो आपके दिमाग को दूसरी ओर खींचे। यानी एकदम शांत जगह पर बैठकर पढ़ाई करें। आपके पास कोई भी डिस्टर्ब करने वाला व्यक्ति ना हो और किसी भी प्रकार का अधिक शोरगुल ना हो। तभी आपका दिमाग आपके पढ़ाई पर लगेगा और आप शांत मन से पढ़ाई कर सकेंगे।

बिना कोचिंग के कैसे करें प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी

कई छात्र प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी बिना कोचिंग के करते हैं। ऐसे लोग अक्सर परेशान रहते हैं कि आखिर वे किस तरह से प्रतियोगी परीक्षा में सफल हो सकते हैं। क्योंकि आज के दौर में लगभग सभी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्र कोचिंग की सहायता लेते हैं। लेकिन कुछ ऐसे भी होते हैं जिनके पास उतना पैसा नहीं होता है कि वे किसी कोचिंग इंस्टीट्यूट में एडमिशन करवा सकें। ऐसे लोग नीचे बताए गए स्टेप को फॉलो करें:

अपने ऊपर आत्मविश्वास बनाए रखें

किसी भी प्रतियोगी परीक्षा में सफलता पाने के लिए सबसे पहले आप अपने आत्मविश्वास को मजबूत करिए। अगर आपको खुद के ऊपर विश्वास नहीं है तो फिर आप जीवन में किसी भी क्षेत्र में सफलता नहीं पा सकते। इसीलिए कठिन परिश्रम करें और पूरी ईमानदारी से पढ़ाई करें और किसी भी परीक्षा को देते समय अपने ऊपर आत्मविश्वास रखें कि आप उस परीक्षा को पास कर लेंगे।

कोर्स से सम्बंधित पुस्तकें पढ़ें

आप जिस भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, सबसे पहले उसके कोर्स को चेक करें और उसी से संबंधित किताबें ही पढ़ें। इसके अलावा कोर्स में जो भी टॉपिक महत्वपूर्ण हैं उसी का अध्ययन करें। जो टॉपिक आपके कोर्स में नहीं है उस पर बेवजह समय बर्बाद न करें।

टाइम टेबल जरूर बनाएँ

जैसा कि हमने ऊपर ही बताया कि किसी भी परीक्षा में सफलता पाने के लिए उसका सही अध्ययन बहुत जरूरी है। इसके लिए टाइम टेबल जरूर बनाएँ। हर विषय को महत्व दें। अधिक महत्वपूर्ण विषय पर अधिक और कम महत्वपूर्ण विषय पर कम समय दें। सभी विषयों का नियमित अध्ययन जरूर करें।

खुद से नोट्स तैयार करें

किसी भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करते समय उसकी नोट्स खुद से लिखकर तैयार करें क्योंकि लोगों को अपना खुद का लिखा हुआ आसानी से समझ में आता है। नोट्स पर कोई भी टॉपिक लिखने के बाद उसे दो से तीन बार जरूर पढ़ लें। हफ्ते में एक बार पूरे नोट्स को जरूर दोहराएँ।

अगर आप भी प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता पाना चाहते हैं तो ऊपर बताए गए टिप्स पर जरूर ध्यान दें। किसी भी परीक्षा में सफल होने के लिए कठिन परिश्रम के साथ साथ नियमित अध्ययन बहुत जरूरी है। इसके अलावा पढ़ाई के लिए रणनीति बनाना भी बहुत जरूरी है। बिना रणनीति के पढ़ाई करने से आप असफल हो सकते हैं।