सुपर कंप्यूटर क्या है ? सुपर कंप्यूटर के कार्य

सुपर कंप्यूटर क्या है:- सुपर कंप्यूटर नाम से ही दिमाग में एक अलग तरह के कंप्यूटर की छवि दिखाई देती है। इसे हम बड़े आसान भाषा में समझ सकते हैं परंतु उससे पहले हमें कंप्यूटर के बारे में जानना होगा। कंप्यूटर एक प्रकार की सामान्य मशीन होती है, जो कई प्रकार के information अथवा data को लेकर प्रोसेस करके उसे अपने मेमोरी में store करता है। उसके बाद आवश्यकता अनुसार अथवा सर्च के माध्यम से output देता है।

इसी तरह से हम सुपर कंप्यूटर के बारे में कहे तो यह सामान्य कंप्यूटर के तुलना में ज्यादा तीव्र गति से तथा आकार में बड़ा होता है, जहां कम समय में सैकड़ों निर्देशों का कुछ ही सेकंड में मापन कर सकता है तथा हाई स्पीड कैलकुलेशन परफॉर्मेंस के कारण इसे सुपर कंप्यूटर कहा जाता है।

सुपर कंप्यूटर का इतिहास

सुपर कंप्यूटर जितना विख्यात है, उसका इतिहास भी उतना ही अनोखा है। सबसे पहले सुपर कंप्यूटर 1975 में डेनियल स्लोटनिक ने किया था जिसका नाम इल्लीआक 4 है। इसमें इतनी क्षमता है कि यह एक बार में 64 कंप्यूटर के बराबर कार्य कर सकता है।

दुनिया के कई देशों ने सुपर कंप्यूटर बनाना चालू कर दिया उनमें से चीन, जर्मनी, US, मैक्सिको आदि देश शामिल है। 1980 के दशक में भारत को अमेरिका ने सुपर कंप्यूटर देने से इनकार कर दिया था। भारतीय वैज्ञानिकों ने सी-डेक परम -8000 सुपर कंप्यूटर तैयार किया।

2018 में चाइना ने अभी तक का fastest सुपरकंप्यूटर का निर्माण किया जो पूरी दुनिया में सबसे तेज गति से चलता है जिसका नाम Sunway TaihuLight है।

दुनिया के पांच सर्वश्रेष्ठ सुपर कंप्यूटर

  1. Sunway Taihulight – Chaina
  2. Tianhe -2 – Chaina
  3. Piz Daint – Switzerland
  4. Titan – US
  5. Gyoukou – Japan

सुपर कंप्यूटर के लिए ऑपरेटिंग सिस्टम का उपयोग

लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम का उपयोग अधिकांश नए सुपर कंप्यूटर में किया जाता है, लेकिन लिनक्स के अलावा अन्य, CentOS, बुलक्स SCS, SUSE और क्रे लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम सुपर कंप्यूटर के लिए उपयोग किए जाते हैं।

सुपर कंप्यूटर की विशेषताएं

  • सुपर कंप्यूटर प्रति सेकंड में खरगो फ्लोटिंग प्वाइंट संक्रियाएं कर सकता है।
  • इसका उपयोग केवल विशेषज्ञ लोग ही कर सकते हैं।
  • यह अनुसंधान हेतु बड़ा लाभकारी है।
  • इसे ठंडा करने के लिए अलग से व्यवस्था करना पड़ता है।
  • किसी एक स्थान से दूसरे स्थान आसानी से लाया ले जाया नहीं जा सकता है।

सुपर कंप्यूटर के कार्य

  • जलवायु अनुसंधान
  • क्वांटम यांत्रिकी
  • आण्विक मॉडलिंग
  • परमाणु ऊर्जा अनुसंधान
  • मौसम भविष्यवाणी
  • कोड ब्रेकिंग
  • तेल और गैस की खोज
  • ग्राफिक्स एंड डिजाइन
  • जेनेटिक एनालिसिस
  • अंतरिक्ष अनुसंधान
  • जटिल वित्तीय आर्थिक मॉडल
  • भौतिक विज्ञान
  • रसायनिक मॉडल

सुपर कंप्यूटर के लाभ

  • सुपर कंप्यूटर के माध्यम से अंतरिक्ष में होने वाली गतिविधियों पर ध्यान रखा जा सकता है।
  • सुपर कंप्यूटर सामान्य कंप्यूटर की तुलना में हजारों गुना तेजी से काम करता है। जिसका हम फायदा अनुसंधान क्षेत्र में ले सकते हैं।
  • दुनिया में बढ़ रहे साइबर क्राइम को सुपर कंप्यूटर के माध्यम से रोका जा सकता है।
  • सुपर कंप्यूटर के माध्यम से समय तथा संसाधनों को बचाया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *