Category Archives: Hindi Tech

Whatsapp पर GIF Animation Image/Video कैसे बनायें?

Whatsapp पर GIF Animation Image/Video कैसे बनायें? :- क्या आपको पता है कि आप खुद ही Whatspp से GIF Animtion Image बना सकते हैं।

हम में से कई लोग GIF Animation Image को बहुत पसंद करते हैं और अपने लोगों के साथ GIF Animation Image Share भी करते हैं।

लेकिन अधिकतर लोग GIF Animation Image को या तो Google से Download करते हैं या फिर किसी दूसरे App की मदद से बनाते हैं।

लेकिन बहुत कम लोग ही जानते हैं कि whatsapp पर GIF Animation Image/Video आप भी आसानी से बना सकते हैं वो भी खुद अपनी पसंद का।

तो चलिए जानते हैं वह क्या तरीका है जिसके जरिए आप GIF Animation Image, Whatsapp पर बना पाएंगे।

GIF क्या है? Whatsapp पर GIF कैसे बनायें?

आप मे से कई लोग GIF के बारे में जानते हैं। आजकल Image शेयर करने का यह बहुत Popular Format बन चुका है।

WHatsapp, Facebook, Twitter या किसी भी Platform में GIF जरूर देखने को मिल जायेंगे, क्योंकि यह देखने मे काफी Funny होते हैं।

पर यदि आप GIF के बारे में नही जानते तो थोड़ा जान लेते हैं। GIF का पूरा नाम Graphics Interchange Format है।

GIF भी एक Image का Format है, ठीक उसी तरह जैसे JPEG होता है। लेकिन बाकी के Image Format की तुलना में यह काफी अलग है।

IMage के जो भी Format हैं उसमें Height और width होते हैं। यानी कि उनमें Time नही होता है, video की तरह, जिससे कि वह Motionless होती हैं।

लेकिन GIF में Height और Width कर साथ साथ Time भी होता है, जो कि इसको एक अलग ही Look दे देता है।

GIF में कई Images को एक साथ Compile किया जाता है। सब कुछ सही हो जाने के बाद जब GIF को चलाया जाता है तो एक के बाद एक Images कुछ वक्त के लिए आती हैं।

जिनको देखकर ऐसा लगता है जैसे Images, videos की तरह चल रहे हैं।

GIF के फायदे || Whatsapp पर GIF Animation Image/Video कैसे बनायें?

Animated Images आज लोगों के काफी Popular है। सोशल मीडिया में लोग काफी ज्यादा ऐसे Videos को share करते हैं। पर सवाल यह उठता है कि आखिर GIF में ऐसा क्या खास है?

जैसा कि आपको ऊपर बताया कि GIF की Image का ही एक Format है लेकिन इसमें Motion होता है। GIF के पहले लोगों को Motion में Image देखने का सिर्फ एक तरीका पता था और वो है Videos का

Images के सभी Format सिर्फ Still Image को ही दिखाते थे। जबकि वीडियो काफी बड़े होते थे। बहुत ज्यादा Space लेते थे।

साथ Download करने में data ख़र्च होता था, online देखने मे Buffering की दिक्कत आती थी। साथ मे किसी को आगे या पीछे की Image देखनी है तो वह भी आसान नही होता था।

लेकिन GIF में Images को इस तरह से Compress करके एक Motion वाला Animation बनाया जाता है, जिससे कि Image की Quality भी खराब नही हो, साथ मे यह कम Space भी ले।

इसी खूबी के चलते आज GIF का चलन बहुत अधिक बढ़ता जा रहा है।

Whatsapp पर GIF Animation Image/Video कैसे बनायें?

आजकल लोग Massage करने के लिए अधिकतर Whatsapp का ही उपयोग करते हैं। इसलिए हम यह बताने वाले हैं कि किस तरह से Whatsapp में ही GIF बनाकर भेज सकते हैं।

  • इसके लिए सबसे पहला काम आपको यह करना है कि आपके फ़ोन पर Whatsapp Open करना है। यदि Whatsapp नही है तो Install कर लें।
  • आप जिस किसी को भी GIF भेजना चाहते हैं, उसकी Profile पर आपको जाना है।
  • यहाँ आपको Attachment का एक Option दिखाई देगा। आपको इसे Select करना है।
  • अब कई Options आपके सामने होंगे जिसमें से आपको Gallery को Select करना है। Gallery में जाने के बाद आपको वह Video चुनना है, जिससे आप GIF बनाना चाहते हैं।
  • जैसे ही आप उस वीडियो को चुनेंगे वह आपके सामने आ जायेगा। अब आप अपने मन मुताबिक Video के जिस हिस्से का GIF बनाना चाहते हैं उस हिस्से को चुन लें।
  • GIF आमतौर पर सिर्फ 6 Second की होती है, इसलिए वीडियो में से सिर्फ 6 Second का हिस्सा ही चुने।
  • वही Timer के पास एक और Option दिखाई देगा, जो Video/GIF का होगा। आपको इस Option में से GIF को Select कर लेना है।
  • Select करते ही वह हिस्सा GIF में बदल जाएगा। अब आपको Send के Icon को दबा देना है, जिसके बाद वह GIF Reciever के पास चला जाएगा।
  • यह GIF Video मात्र 6 Second का रहेगा इसलिए जल्दी चला जाएगा और आपके मोबाइल में भी Save हो जाएगा।
  • इस तरह मात्र 10 सेकंड में आप किसी को भी Whatsapp में GIF Videos भेज सकते हैं।

अब आपको समझ आ गया होगा कि Whatsapp पर GIF Video भेजना कितना आसान है। इसलिए आप आज से ही इस Technique का Use करके किसी को GIF Video जरूर भेजिए।

हार्ड डिस्क की मरम्मत कैसे की जाती है ? {How to repair hard disc in Hindi}

आज के समय में प्रत्येक व्यक्ति के पास अपना एक computer होता है। जिस व्यक्ति के पास computer होता है , उसे hard disk के बारे में तो अवश्य ही पता होता है , परंतु हममें से ज्यादातर लो अपने hard disk repair नहीं कर पाते। जब कभी भी हमारा hard disk खराब हो जाता है , तो हम अपने hard disk की मरम्मत खुद से ही नहीं कर पाते।

इसके लिए हम market में computer software repairing center पर जाते हैं और बहुत से पैसे अपने hard disk को बनवाने में खर्च करते हैं।

आज के इस write में हम आपको बताने वाले हैं , कि आप खुद से ही अपने computer के hard disk को कैसे repair कर सकते हैं। यदि आप यह जानना चाहते हैं , कि आप आपके computer के hard disk को कैसे repair कर पाएंगे तो हमारे इस important write को अंत तक अवश्य पढ़ें।

हार्ड डिस्क को कैसे रिपेयर करें ? ( How to repair hard disk in Hindi )

Hard disk repairing करने के कई सारे तरीके होते हैं , जिसमें से हम आपको कुछ तरीकों के बारे में बताने वाले हैं। यदि आप अपने hard disk को स्वयं से repair करना चाहते हैं , तो हमारे द्वारा बताए गए steps को follow करें।

  • आप अपनी computer की hard disk को सबसे पहले बाहरी तरफ से ही ध्यान पूर्वक देखें ऐसा आप इसलिए करेंगे ताकि आप जान सके कि आपके hard disk को बाहरी तरफ से कोई नुकसान तो नहीं है
  • यदि आपके computer की hard disk को बाहर की तरफ से कोई नुकसान नहीं होता है तो आप उसका cable change कर के भी जांच कर ले
  • अपने computer को new cable के साथ अपने hard disk से जोड़ें। आप इस बात का अवश्य ध्यान रखें आप IDI drive को slim ribbon cable के साथ ही जोड़ा जाता है
  • आपने computer के hard disk को किसी secondary ID या secondary PC controller के साथ जोड़कर फिर से start कर सकते हैं। इस ID से आपके computer का hard disk तभी start हो सकता है , जब आपके computer का hard disk ID system के द्वारा ही खराब हुआ हो।
  • यदि आपका disk spin नहीं कर रहा हो तो आपको इसमें power connection लगाना पड़ सकता है। कुछ hard disk ऐसे होते हैं , जिन्हें data collection के बिना नहीं चलाया जा सकता। यदि आप दोनों तरीके से इसे check कर चुके हैं और आपका computer hard disk spin नहीं कर रहा हो , तो आपके hard disk में printed circuit board से संबंधित खराबी हो सकती है।
  • आप अपने disk को किसी दूसरे computer में लगाकर यह check करें कि आपका disk काम कर रहा है या नहीं। आपका disk की यदी दूसरे computer में कार्य करता है , तो आपका mother board खराब होता है ना कि hard disk।

निष्कर्ष :-

आप अपने computer की hard disk को हमारे द्वारा बताए गए step को follow करते हुए बहुत ही आसानी से ठीक कर सकते हैं।

यदि आपके hard disk में हमारे द्वारा बताए गए खराबी होती है अर्थात mother board की खराबी तो आपको अपने computer को किसी software repairing center पर जाकर ही सही करवाना होगा।

यदि आपको हमारा यह लेख पसंद आया हो तो इसे अपने friends , परिजनों और उन्हें अवश्य share करे , जो अपने computer पर घर से ही काम करते हैं।

अपने फोन में दो व्हाट्सएप का प्रयोग किस प्रकार से कर सकते हैं।

How to use two WhatsApp in one phone in Hindi :- आज के समय में लगभग व्हाट्सएप का प्रयोग लगभग विश्व भर में सभी लोग करते ही हैं। आज संपूर्ण विश्व में व्हाट्सएप यूजर्सओं की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है।

आज के समय में व्हाट्सएप को कई लोग अपने ऑफिस के कार्य में भी प्रयोग करते हैं।लोगों की समस्या हो जाती है कि ऑफिस वर्क के लिए और एक पर्सनल व्हाट्सएप के लिए अलग-अलग अकाउंट कैसे बनाएं और वह भी सिर्फ एक ही मोबाइल फोन में।

ऐसे में यदि आप भी दो व्हाट्सएप को एक स्मार्ट फोन में यूज करने की प्रक्रिया के बारे में जानकारी हासिल करने के लिए गूगल पर इधर-उधर भटक रहे थे , तो आपको अब कहीं और जाने की आवश्यकता नहीं है।

आज हम इस लेख के माध्यम से आप सभी लोगों को एक मोबाइल में दो व्हाट्सएप यूज़ (trick for using two WhatsApp in one mobile phone ) करने की बेहतरीन ट्रिक बताने वाले हैं। कृपया हमारे इस महत्वपूर्ण लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

एक मोबाइल फोन में दो व्हाट्सएप को कैसे प्रयोग करें ?(How to use two WhatsApp in one smartphone in Hindi )

यदि आप भी अपने स्मार्टफोन में एक ऑफिस वर्क और दूसरा पर्सनल यूज़ के लिए व्हाट्सएप का प्रयोग करना चाहते हैं , तो कि हमने इसी से संबंधित बेहतरीन तरीका बताया है , जिसे आप फॉलो करके आसानी से एक फोन में दो व्हाट्सएप चला पाएंगे।

Step . 1 सबसे पहले आपको एक फोन में दो व्हाट्सएप चलाने के लिए प्ले स्टोर से पैरेलल स्पेस नामक एक एप्लीकेशन को इंस्टॉल करना होगा।

Step . 2 इस एप्लीकेशन को आप अपने फोन में इंस्टॉल करने के बाद ओपन कर ले।

Step . 3 अब आपको इस एप्लीकेशन के अंदर आपने जितने भी सोशल मीडिया के एप्लीकेशन इंस्टॉल किया होंगे , वह सभी दिखाई देने लगेंगे।

Step . 4 आपको जिस भी एप्लीकेशन को अपने फोन में दूसरी बार प्रयोग में लेना है , तो आपको उस एप्लीकेशन का सिलेक्शन करना होगा। जैसे इस केस में आपको व्हाट्सएप का सिलेक्शन कर लेना है

Step . 5 अब आपको यहां पर ऐड टू पैरेलल स्पेस नामक एक विकल्प दिखाई देगा , उस पर आपको क्लिक कर देना है। एक बार फिर से आपको एक नया व्हाट्सएप का आइकन यहां पर दिखाई देगा।

Step . 6 अब दिखाई दे रहे व्हाट्सएप के आइकन पर आपको क्लिक करना है और इसे ओपन कर लेना है।

Step . 7 जिस प्रकार से आप एक नए व्हाट्सएप का अकाउंट बनाते हैं , उसी प्रकार से आप यहां पर अपने व्हाट्सएप का अकाउंट बना ले।

ध्यान दें :-

प्रक्रिया को पूरा करने के बाद आप एक फोन में दो व्हाट्सएप चलाने के लिए सक्षम हो जाएंगे।इस प्रक्रिया को करने के दौरान आपको किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होगी।

टू स्टेप वेरीफिकेशन क्या होता है और इसके फायदे क्या है।

what is two step verification in Hindi :-आज के इस आधुनिक तकनीकी के दौर में लगभग अब सभी प्रकार के कार्य इंटरनेट के सहायता से होने लगे हैं।

इंटरनेट के वजह से ही अब मनुष्य के जीवन में काफी ज्यादा सरलताएँ आ चुकी है। ऐसे में आप सभी प्रकार के अपने महत्वपूर्ण कार्यों को जैसे कि इंटरनेट बैंकिंग , ईमेल आईडी इत्यादि कार्यों को करने के लिए आप इंटरनेट की सहायता लेते हैं।

सभी चीजें ऑनलाइन रूप में होने की वजह से इन पर हैकिंग जैसे महा संकट का भी डर लगा रहता है। यदि कोई व्यक्ति आपके किसी भी प्रकार के आवश्यक डाक्यूमेंट्स को हैक कर लेता है , तो वह आपको काफी हद तक नुकसान भी पहुंचा सकता है। अत्यधिक तकनीक के विकास से हैकिंग (how to protect important data from hacking in Hindi)

जैसे कार्य भी अब के समय में काफी हद तक संभव हो चुके हैं। अपने सभी डाटा को सुरक्षित रखने के लिए आपको टू स्टेप वेरीफिकेशन काफी हद तक हैकिंग जैसे समस्याओं को आप से दूर रखने में आपकी सहायता करता है। आज हम इस लेख के माध्यम से जानेंगे कि टू स्टेप वेरीफिकेशन क्या है और इसको प्रयोग करने के क्या-क्या फायदे हो सकते हैं।

टू स्टेप वेरीफिकेशन क्या होता है ? (What is two step verification in Hindi )

यह एक प्रकार का ऐसा फीचर है , जिसके इस्तेमाल से आप अपने किसी भी डाटा को दोहरी सुरक्षा प्रदान करते हैं। इसे टू स्टेप वेरीफिकेशन और टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन के नाम से भी जाना जाता है।

इस फीचर के इस्तेमाल के दौरान आप जब भी अपने किसी भी प्रकार के और अकाउंट में लॉगिन करते हैं , तो इस परिस्थिति में यह आपसे टू स्टेप वेरीफिकेशन आप से मांगता है।

आप इस फीचर को इनेबल किए होंगे तभी यह आपसे टू स्टेप वेरिफिकेशन मांगेगा।

अब यदि आप लॉगइन करते वक्त अपने टू स्टेप वेरीफिकेशन को पूरा नहीं कर पाते हैं , तो ऐसी परिस्थिति में आप अपने किसी भी प्रकार के अकाउंट में लॉगिन नहीं कर पाते और इसी की वजह से इसको इनेबल करने से आपको दोहरी सुरक्षा प्रदान होती है।

टू स्टेप वेरीफिकेशन को इनेबल करने के क्या फायदे हो सकते हैं (benefit of two step verification in Hindi )?

  • आपकी किसी भी प्रकार के अकाउंट को दोहरी सुरक्षा इसको इनेबल करने से मिल जाती है। जिसे आप हैकिंग जैसी समस्या से खुद को सुरक्षित रख सकते हैं।
  • इनेबल करने से आप अनऑथराइज्ड एक्सेस से भी बच सकते हैं।
  • इसको इनेबल करने से आपके सभी प्रकार के ऑनलाइन ट्रांजैक्शन सुरक्षित रूप में होते हैं।
  • यदि आपके अकाउंट का कोई भी व्यक्ति पासवर्ड या यूजरनेम जान जाता है , तो वह बिना टू स्टेप वेरीफिकेशन को पूरा किए आपके किसी भी प्रकार के अकाउंट को लॉग इन करने में असक्षम रहता है।

अपने टेलीग्राम अकाउंट को कैसे डिलीट कर सकते हैं ?

आज के समय में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की कमी नहीं है , आपको ऐसे बहुत से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म मिल जाएंगे जहां पर बहुत सारे लोग अपने दिनचर्या में निरंतर रूप से ऑनलाइन रहते ही हैं।

आपको बहुत से ऐसे लोग देखने को मिल जाएंगे जो अपने स्मार्टफोन में न जाने कितने प्रकार के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के एप्लीकेशन को इंस्टॉल करके रखते हैं।

ऐसे लोग यहां पर अपना अकाउंट बनाकर इसे लगभग अपने दिनचर्या में कभी ना कभी प्रयोग में लेते ही है। इस प्रकार के social media users न जाने कितने सोशल मीडिया अकाउंट बनाकर रखते हैं , जिन्हें उनको मैनेज कर पाना बहुत ही कठिन कार्य लगने लगता है।

अपने टेलीग्राम अकाउंट को कैसे डिलीट कर सकते हैं ?

फिर ऐसे लोग इंटरनेट पर प्रयोग में ना लाए जाने वाले सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को डिलीट करने या अपना खाता यहां से डिलीट करने के लिए तरीके ढूंढने लगते हैं। आज हम आपको इसी क्षेत्र से संबंधित जानकारी इस लेख के माध्यम से देने वाले हैं।

आज आप इस लेख के माध्यम से जानेंगे , कि कैसे अपने टेलीग्राम अकाउंट को परमानेंट तरीके से डिलीट किया जा सकता है। यदि आप यह जानना चाहते हैं , तो आप हमारे इस लेख को अंतिम तक अवश्य पढ़ें

टेलीग्राम अकाउंट किस प्रकार से डिलीट करते हैं ?

टेलीग्राम अकाउंट डिलीट करने के लिए कुछ नीचे आसान चरण के बारे में बताया है , जिनका अनुसरण करके आप अपना टेलीग्राम अकाउंट हमेशा के लिए डिलीट कर सकते हैं।

  • Step . 1
  • इसके लिए सबसे पहले आपको टेलीग्राम डीएक्टिवेट पेज https://my.telegram.org/auth?to=deactivate पर जाना होगा।
  • Step . 2 अब इस पेज पर जाने के बाद आपको लॉग इन करने के लिए कहा जाएगा। यहां पर आपको आपका मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा।आपका मोबाइल नंबर दर्ज करते समय कंट्री कोड को लिखने के बाद साथ ही में मोबाइल नंबर को भी लिख दें। इसके बाद आपको नेक्स्ट वाले बटन पर क्लिक कर देना है
  • Step . 3 यह प्रक्रिया पूरी करने के बाद आपके टेलीग्राम अकाउंट में एक कन्फर्मेशन कोड भेजा जाएगा। आपके केवल टेलीग्राम अकाउंट में ही आएगा ना , कि आपके द्वारा रजिस्टर मोबाइल नंबर पर s.m.s. के माध्यम से।
  • Step 4 . आपके टेलीग्राम अकाउंट पर आए हुए कंफर्मेशन कोड को वहां से कॉपी कर ले और फिर कंफर्मेशन कोड सेक्शन वाले जगह पर आपको यह कोड पेस्ट कर देना है। अब आपको साइन इन वाले बटन पर क्लिक कर देना है।
  • Step 5 . यह प्रक्रिया पूरी करने के बाद आप अपने टेलीग्राम वाले अकाउंट में दाखिल हो जाएंगे अब आपको यहां पर अकाउंट डिलीट करने के बारे में पूछा जाएगा , कि आप अपना अकाउंट आखिर क्यों डिलीट करना चाहते हैं।
  • Step 6 . अब इस स्थान पर आप अपना कारण बताइए और फिर उसके बाद डन वाले विकल्प पर क्लिक कर दीजिए।
  • Step 7 . डन करने के बाद आपके सामने दो विकल्प खुल के आ जाएंगे यहां पर आपको रेड कलर में और ग्रीन कलर में विकल्प देखने को मिल जाएंगे। इस वाले स्थान पर आपको रेड वाले विकल्प पर क्लिक करना होगा। इतना करने के बाद आपका टेलीग्राम अकाउंट सफलतापूर्वक डिलीट हो जाएगा।

ध्यान दें :-

आपका टेलीग्राम अकाउंट आपके मोबाइल फोन एप्लीकेशन के माध्यम से डिलीट नहीं हो सकता हमने जो आपको ऊपर लिंक बताया है , उसी लिंक की सहायता से आप अपना टेलीग्राम अकाउंट डिलीट कर सकते हैं।

अनचाहे फोन नंबर को ब्लैक लिस्ट में कैसे ऐड करते हैं ?

दोस्तों जब से फोन का आविष्कार हुआ है , तब से मानो अब लोगों की एक दूसरे से दूरी अब कुछ खास रूप से नहीं रह गई है।

फोन के आ जाने से अब किसी भी प्रकार की आवश्यक जानकारी को या अन्य लोगों से उनका स्वास्थ्य हाल पूछने के लिए आप केवल घर बैठे एक कॉल के माध्यम से अपने अनुसार उनसे जानकारियां ले सकते हैं और उन्हें प्रदान कर सकते हैं।मगर दोस्तों जहां पर फोन के अपने कई फायदे हैं , वहां पर इसके कई अनेक प्रकार के दुष्प्रभाव भी होते हुए लगभग नजर आते हैं।

मगर कभी-कभी ऐसी परिस्थितियां आ जाती है , जो आपको विचलित भी कर सकती है। जैसे कि यदि आपका फोन नंबर कोई अनचाहा या अनजान व्यक्ति प्राप्त कर लेता है तो वह आपको फोन करके परेशान कर सकता है और वह किसी भी प्रकार का ब्लैक मेलिंग कॉल भी आपको कर सकता है।

ब्लैक लिस्ट क्या होता है ? || अनचाहे फोन नंबर को ब्लैक लिस्ट में कैसे ऐड करते हैं ?

कभी-कभी ऐसा भी होता है , हमारा ऐसा वर्क क्षेत्र होता है , जहां पर हमें अपने फोन नंबर को कई लोगों के साथ साझा करना पड़ जाता है। ऐसे में कुछ ऐसे व्यक्तियों को भी आपका नंबर मिल जाता है , जो आपको बार बार कॉल करके केवल परेशान करने के लिए ही आपका नंबर प्रयोग करते हैं।

ऐसे में सवाल उठता है कि इस प्रकार की अनचाही कॉल को रोकने के लिए क्या कोई तरीका है ,आपके प्रश्न का उत्तर जी हां ऐसा तरीका अब मौजूद है , जिसका प्रयोग करके आप अनचाही कॉल को ब्लैक लिस्ट में ऐड करके उन्हें हमेशा के लिए अपने कनेक्टिविटी से दूर कर सकते हैं।

आज हम आपको इस लेख के माध्यम से बताएंगे , कि कैसे आप किसी भी अनचाहे नंबर को ब्लैक लिस्ट में बड़ी ही आसानी से ऐड कर सकते हैं।

यदि आप भी यह आवश्यक एवं महत्वपूर्ण जानकारी जानने के लिए इच्छुक हैं , तो हमारे इस लेख को अंतिम तक अवश्य पढ़ें।

ब्लैक लिस्ट क्या होता है ?

अब के समय में यह फीचर लगभग आपको हर एक नए स्मार्टफोन में देखने को मिल जाता है।

इस फीचर की सहायता से आप किसी भी प्रकार के अनचाहे कॉल को ब्लैक लिस्ट में ऐड करके उसे अपने अनुसार या हमेशा के लिए उस नंबर से आने वाली कॉल को बंद कर सकते हैं।

किसी भी फोन नंबर को ब्लैक लिस्ट में ऐड करने के बाद उस नंबर से आपके नंबर पर कॉल नहीं आ सकती है।

जो भी व्यक्ति आपको परेशान करने के लिए कॉल करता है और आपने उसका नंबर पहले से ही ब्लैक लिस्ट में ऐड कर रखा है , तो ऐसी परिस्थिति में उस नंबर धारक को यदि आपको कॉल करना होगा तो उसे आपका काल व्यस्त है या स्विच ऑफ मोड में बताएगा। बहुत ही अच्छा फीचर है , इसका प्रयोग करके आप अपने फोन में आने वाली अनचाही कॉल को ब्लॉक कर सकते हैं।

किसी भी अनचाहे फोन नंबर को ब्लैक लिस्ट में कैसे ऐड करते हैं ?

यदि आप किसी भी प्रकार के अनचाहे फोन नंबर को ब्लैक लिस्ट में ऐड करना चाहते हैं , तो हमने नीचे कुछ आसान स्टेप बताएं हैं , जिनका आप अनुसरण करके आप बड़ी ही आसानी से किसी भी नंबर को ब्लैक लिस्ट में ऐड कर सकते हैं।

Step . 1 सबसे पहले आपको यह फीचर प्रयोग करने के लिए अपने फोन में कॉल करने वाले एप्लीकेशन को ओपन कर लेना है।

Step . 2 अब इस एप्लीकेशन के अंदर आपको जितने भी कॉल आई होंगी या आपने जितनी भी कॉल की होगी या फिर जितने भी कॉल मिस होंगे सभी प्रकार के लिस्ट आपको दिखाई देंगे।

Step . 3 अब आप अपने कॉल हिस्ट्री में से उस नंबर का चुनाव करें जिस भी नंबर को आप ब्लैक लिस्ट में ऐड करना चाहते हैं।

Step . 4 आप इस नंबर पर थोड़े समय के लिए क्लिक करके रखते हैं , अब आपको ऊपर राइट हैंड साइड फोन के कार्नर में 3 डॉट दिखाई देंगे। जिसे मेनू बार भी कहा जाता है , इस पर आपको क्लिक करना होगा।

Step . 5 अब आपको मेनू बार पर क्लिक करने के बाद तुरंत ही कई नए ऑप्शन दिखाई देने शुरू हो जाएंगे।इसी मेनू बार में आपको ऐड टू ब्लैक लिस्ट नाम का एक विकल्प दिखाई देगा , इस पर आपको क्लिक करना है।

Step . 6 अब इस विकल्प पर क्लिक करते ही आप जिस भी नंबर को ब्लैक लिस्ट में ऐड करने के लिए चुने होंगे , वह अपने आप ही ब्लैक लिस्ट में ऐड हो जाएगा।

Step . 7 नंबर को ऐड करने के बाद आपको उस नंबर से कॉल आना बंद हो जाएंगे और आप आसानी से ऐसी कालो से छुटकारा भी पा सकेंगे।

ध्यान दें :-

अलग-अलग प्रकार के स्मार्ट फोनों में ब्लैक लिस्ट में ऐड करने वाले फीचर को थोड़ा इधर-उधर करके प्रजेंट किया जाता है , आप एक बार अपने फोन में इस फीचर को ढूंढने के लिए सेटिंग का भी विकल्प देख सकते हैं।

रिपीटर क्या होता है और यह किस प्रकार से कार्य करता है ?

सभी लोग जानते हैं , कि आज का समय इंटरनेट वाला है और लगभग सभी प्रकार के कार्य ऑनलाइन हो चुके हैं।

ऑनलाइन से जुड़े हुए सभी प्रकार की कार्य को करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण इंटरनेट की आवश्यकता होती है। यदि इंटरनेट ना हो तो मानो आज के समय में जीवन एकदम एक जगह पर थम सा जाएगा और कोई कार्य भी लगभग ना के बराबर हो पाएगा।

इंटरनेट से जुड़ी हुई लगभग कई प्रकार की समस्याएं भी होती हैं। अनेकों प्रकार की जुड़ी हुई इंटरनेट की समस्याओं में इंटरनेट का धीमा होना या फिर इंटरनेट के सिग्नल में काफी गिरावट होना होता है।

रिपीटर क्या होता है और यह किस प्रकार से कार्य करता है ?

इंटरनेट सही से कार्य नहीं करता है , तो लगभग हर एक प्रकार के कार्य को करने में बहुत ही कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इंटरनेट से संबंधित सिग्नल या नेट की स्पीड में गिरावट से निपटने के लिए रिपीटर का निजात किया गया है।

इस डिवाइस की सहायता से इंटरनेट के सिग्नल को बढ़ाया जा सकता है और इंटरनेट की स्पीड को भी काफी हद तक सुधारा जा सकता है। नेटवर्क से संबंधित समस्याओं को हल करने के लिए ही रिपीटर का इस्तेमाल किया जाता है।

आज हम आपको इस लेख के माध्यम से रिपीटर क्या है और यह कैसे कार्य करता है , यह बताने वाले हैं। यदि आप यह रोचक जानकारी जानने के लिए इच्छुक हैं , तो हमारे इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

रिपीटर क्या होता है ?

जिस भी स्थान पर इंटरनेट का अत्यधिक उपयोग किया जाता है और लगभग सभी प्रकार के सिस्टम इंटरनेट के माध्यम से एक दूसरे से जुड़े रहते हैं , तो ऐसी स्थिति में इंटरनेट का सिग्नल अच्छा होना ही क्षेत्र को सुगम बनाता है।

मगर इंटरनेट के सिग्नल में कमी होने के कारण सभी प्रकार के सिस्टम ऑनलाइन रूप में सही प्रकार से कार्य नहीं कर पाते हैं ।

इसी को ध्यान में रखते हुए रिपीटर का आविष्कार किया गया। रिपीटर एक ऐसा पावरफुल नेटवर्क डिवाइस होता है , जिससे सिग्नल को रीजेनरेट करने में सहायता हो जाती है। यदि ट्रांसमिशन लंबी दूरी पर भी होता है , तो इस डिवाइस के जरिए सिग्नल को समान रूप से सुचारू ढंग से कार्य लेने में सहायता ली जाती है।

जब भी इंटरनेट का कनेक्शन होता है तो यह सिग्नल को कॉपी करता है और फिर इसे थोड़ा थोड़ा करके रीजेनरेट करता रहता है , जिससे नेटवर्क को समानता मिलती रहती है और वह सही प्रकार से निरंतर रूप से कार्य करता रहता है।

रिपीटर ओएसआई लेयर के फर्स्ट लेयर में स्थित होता है।रिपीटर के निर्माण में ऐसे केबल का इस्तेमाल किया जाता है , जिससे कम से कम 100 मीटर की दूरी तक के नेटवर्क को निरंतर रूप से समानता प्रदान हो सके।

रिपीटर निर्माण में ऑप्टिकल फाइबर , कॉपर और ऑक्सिकल का इस्तेमाल किया जाता है।

रिपीटर किस प्रकार से कार्य करता है ?


यह एक ऐसा डिवाइस होता है , जो वायर नेटवर्किंग को वाईफाई यानी के वायरलेस नेटवर्किंग को अलाउ कर देता है और जिसकी सहायता से आप अपने कंप्यूटर या फिर फोन को इंटरनेट से कनेक्ट करके आप कम्युनिकेशन कर सकते हैं। Wi-Fi networking में भी कई सारी समस्याएं आ जाती हैं ।

इन समस्याओं में नेटवर्क स्पीड में कमी और वाईफाई सिगनल में भी कई सारी समस्याएं आ जाती है। इस प्रकार की डिवाइस की सहायता से आप वाईफाई सिगनल में भी सुधार ला सकते हैं और अपने इंटरनेट कम्युनिकेशन को सुचारू रूप से बिना किसी रूकावट के जारी रख सकते हैं।

यदि केवल हम कुछ शब्दों में समझे तो पता चलता है रिपीटर की सहायता से इंटरनेट सिग्नल और इंटरनेट स्पीड में सुधार लाया जाता है और यह डिवाइस इन्हीं कार्यों के लिए ही बनाया गया है।

फेसबुक के जरिए पैसे कमाने के पांच बेहतरीन आइडिया क्या है।

दोस्तों हम और आप सभी लोग जानते हैं , आज के समय में सोशल मीडिया बहुत ही शक्तिशाली हो चुका है।सोशल मीडिया का प्रयोग करके बहुत से ऐसे लोग हैं , जो अपने कला को अन्य लोगों के साथ साझा करते हैं और अपनी प्रसिद्धि को हासिल भी कर लेते हैं।

सोशल मीडिया के बल पर ही लगभग सभी प्रकार के या देश विदेश के खबरों के बारे में सबसे पहले लोगों को पता चल पाता है।सोशल मीडिया के प्रयोग से ही लोग अपने विचारों एवं अपनी भावनाओं को एक दूसरे के साथ व्यक्त करते हैं। ऐसे ही सोशल मीडिया का एक प्लेटफार्म है , फेसबुक जिसे लगभग सभी लोग बड़ी भली भांति रूप से परिचित होंगे।

यदि आप भी फेसबुक यूजर हैं और आप अपने दैनिक दिनचर्या में फेसबुक को समय-समय पर इस्तेमाल करते हैं , तो इसका सही तरीके से इस्तेमाल करके इसके जरिए आप अपने लिए कुछ घर बैठे पैसों को भी कमा सकते हैं।

फेसबुक के जरिए पैसे कमाने के पांच बेहतरीन आइडिया क्या है।

जैसा कि हम सभी जानते हैं आज के समय में बेरोजगारी एक बड़ी समस्या बनकर लोगों के सामने खड़ी हो चुकी है।

ऐसे में डिजिटल का सहारा लेकर यदि आप कुछ पैसे घर बैठे कमा सकते हैं , तो यह एक बहुत बड़ी बात होगी।इन सभी चीजों को ध्यान में रखकर हमने आज इस लेख को आप सभी लोगों के समक्ष प्रस्तुत किया हुआ है , आप इस लेख के माध्यम से आज फेसबुक के जरिए कैसे पैसे कमाते हैं जानने वाले हैं।

अगर आप भी इंटरनेट और डिजिटल टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके पैसे कमाना चाहते हैं , तो हमारे इस लेख को अंतिम तक अवश्य पढ़ें।

फेसबुक क्या है ?

मेरे ख्याल से दोस्तों बहुत ही ऐसे कम लोग होंगे जिनको फेसबुक के बारे में जानकारी नहीं होगी। क्योंकि इसके पीछे सबसे बड़ा कारण यह है , कि आज के समय में लगभग दुनिया का आधे से ज्यादा हिस्सा फेसबुक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का प्रयोग अपने दिनचर्या में करता ही है।

फेसबुक एक ऐसी सोशल मीडिया नेटवर्किंग साइट है जिसकी सहायता से आप अपने दोस्तों रिश्तेदारों या अनजान लोगों से दोस्ती करके उनसे बातचीत कर सकते हैं या फिर आप उनसे जुड़ कर अपनी एक कम्युनिटी बना सकते हैं , जहां पर आप अपने विचारों एवं अपने आइडियाज को एक दूसरे के साथ साझा भी कर सकते हैं।

फेसबुक का इस्तेमाल आप फ्री में कर सकते हैं , इसके लिए आपको किसी भी प्रकार का चार्ज नहीं देना पड़ता है।

आप इस बात का अंदाजा लगा सकते हैं जिसे आधी से ज्यादा दुनिया इस्तेमाल करती हो और जहां पर मिलियन मिलियन लोग समय-समय पर ऑनलाइन रहते हैं , तो आप इस प्लेटफार्म का प्रयोग करके किस प्रकार से पैसे कमा सकते हैं ।

फेसबुक से पैसे कमाने के पांच बेहतरीन तरीके कौन से हैं ?

वैसे तो यदि आप चाहें तो फेसबुक जैसे बड़े सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का प्रयोग करके आप अपने यूनिक और क्रिएटिविटी आईडिया के इस्तेमाल से यहां से अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं। फिर भी हमने कुछ ऐसे पांच बेहतरीन तरीकों के बारे में वर्णन किया है , जिसके जरिए आप घर बैठे फेसबुक का इस्तेमाल करके पैसे कमा सकते हैं ।

1 . एफिलिएट मार्केटिंग के माध्यम से पैसे कमाए :

यदि फेसबुक पर आपकी अच्छी खातिर फैन फॉलोइंग है और आपने फेसबुक पर कई सारे ग्रुप से या फिर कम्युनिटी फेसबुक ग्रुप बना रखते हैं , जहां से आप के दोस्त आपके द्वारा साझा किए जाने वाले किसी भी प्रकार के अपने प्रोडक्ट को यदि खरीद सकते हैं , तो इस तरीके से भी आपको घर बैठे इनकम हो सकती है। अमेजॉन जैसी बहुत सी बड़ी कंपनियां अपने एफिलिएट प्रोग्राम को ग्राहकों के लिए उपलब्ध कराती हैं , इनका इस्तेमाल करके फेसबुक पर पैसे कमा सकते हैं।

2 . फेसबुक पेज के माध्यम से पैसे कमाए :

फेसबुक पर जरिए पैसा कमाना चाहते हैं तो यहां पर आप अपना एक फेसबुक पेज बना सकते हैं , इस पेज के जरिए आप बड़ी ही आसानी से पैसे कमा सकते हैं।

जितनी ज्यादा आपके फेसबुक पेज पर लाइक होंगे उतना ही ज्यादा चांस होगा कि आपका फेसबुक पेज अच्छी कीमत में बीच जाए। फेसबुक पेज को बाई और सेल भी किया जाता है और यही कारण है , कि हम आपको आपका एक फेसबुक पेज बनाने की सलाह दे रहे।

3 . फेसबुक वॉच के माध्यम से पैसे कमाए :

आप जानते ही होंगे , कि जैसे यूट्यूब क्रिएटर अपनी वीडियोस को बनाकर यूट्यूब पर पब्लिक्स करके पैसे कमाते हैं , वैसे ही अब फेसबुक नेवी 2017 में अपना फेसबुक वॉच प्रोग्राम लॉन्च कर दिया है।

जिस प्रकार से यूट्यूब क्रिएटर्स अपने वीडियो को बनाकर यूट्यूब पर पब्लिश करता है , उसी प्रकार से आप अपने वीडियोस को बनाकर फेसबुक पर भी अब लिख कर सकते हैं। इस तरीके के माध्यम से भी आप अपने घर बैठे फेसबुक का इस्तेमाल करके पैसे कमा सकते हैं।

4 . फेसबुक ग्रुप के माध्यम से पैसे कमाए :

जिस प्रकार से हमने आपको बताया , कि फेसबुक पेज को भेजकर भी आप घर बैठे पैसे कमा सकते हैं , उसी प्रकार से आप फेसबुक ग्रुप को भी बेच कर पैसे कमा सकते हैं।इसके लिए केवल एक शर्त है , कि आपके फेसबुक ग्रुप में अच्छे खासे मेंबर होने चाहिए और वह सभी एक्टिव भी होने चाहिए।

आप चाहे तो यहां पर अपने खुद के प्रोडक्ट को सेल कर सकते हैं , बस आप का प्रोडक्ट अच्छे प्राइस में और उपयोग लायक होना चाहिए।

इसके लिए यह भी आवश्यक है कि आपके फेसबुक ग्रुप में जितने भी मेंबर मौजूद हैं उनसे आपका संबंध बहुत ही दोस्ताना मिजाज का होना आवश्यक है , जिससे वह आपके द्वारा साझा किए जाने वाले प्रोडक्ट पर विश्वास करके आप के माध्यम से उसे खरीद सकते हैं।

5 . खुद की सेवाएं प्रदान करके पैसे कमाए 

खुद की डिजिटल सेवा इन लोगों को प्रदान करते हैं , तो ऐसे हैं आप फेसबुक का सहारा ले सकते हैं , घर बैठे पैसे कमाने के लिए।

आप अपनी सेवा से संबंधित बड़े-बड़े फेसबुक ग्रुप को ज्वाइन करें और उसमें अपने सेवा से संबंधित लोगों को बताएं यदि आपके बताएं अनुसार किसी को भी आपकी डिजिटल सेवा की आवश्यकता होगी तो वह आपके पोस्ट पर कमेंट करेगा।

आप अपने क्लाइंट को बेहतर से बेहतर ढंग से अपनी सेवा के बारे में समझाएं और उन्हें अपना विश्वास दिला कर एक बेहतर सेवा प्रदान करें ऐसे में आपका एक वर्क एरिया बन जाएगा जिससे आप अपनी सेवा प्रदान करके भी फेसबुक के जरिए पैसे कमा सकते हैं।

कंप्यूटर मेमोरी क्या होती है और यह कितने प्रकार की होती है .

जैसे मनुष्य के अंदर मस्तिक होता है , तब जाकर वह किसी काम को समझ बूझ कर कर सकने में सक्षम होता है .

वैसे ही कंप्यूटर की भी अपनी एक मेमोरी यानी कि मस्तिष्क होती है , जिससे वह हमारे द्वारा दिए गए कमांड को समझ सकता है .

कंप्यूटर मेमोरी क्या होती है और यह कितने प्रकार की होती है .

आज के इस मॉडल जमाने में लोग कंप्यूटर और स्मार्टफोन का प्रयोग तो करते हैं ,परंतु इन सभी चीजों के बारे में पूरी तरीके से जानकारी नहीं रखते वह केवल इन इलेक्ट्रॉनिक गैजेट को फिल्में देखने के लिए या फिर सोशल मीडिया अकाउंट , गेमिंग आदि के लिए प्रयोग करते हैं .

हम आपको इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि कंप्यूटर के अंदर मेमोरी क्यों होती है और यह कितने प्रकार की होती है .

कंप्यूटर मेमोरी क्या है ?

हम जब भी कंप्यूटर को किसी प्रकार का आदेश देते हैं या फिर उसमें कोई डॉक्यूमेंट सेव करते हैं ,तो इस स्थिति में कंप्यूटर मेमोरी ही कार्य करती है .

आपने देखा होगा जब कभी आपके कंप्यूटर के बैटरी अचानक से खत्म हो जाती है और आपका कंप्यूटर स्विच ऑफ हो जाता है .

फिर जब आप कंप्यूटर को चार्ज करके चालू करते हैं तो आपने जो भी डाटा सेव कर रखा होता है या फिर जिस भी विंडो पर आप काम कर रहे होते हैं .

वह दोबारा से उसी जगह से चलना शुरू हो जाता है . जिस भी स्थिति में आपका कंप्यूटर स्विच ऑफ रहा होगा . इन सभी को केवल मेमोरी के माध्यम से ही चलाया जा सकता है .

मेमोरी आपके द्वारा दिए गए आदेश और आपके द्वारा सेव किए गए डाक्यूमेंट्स को सेव करके रखती है .

मेमोरी को हम दूसरी भाषा में स्टोरेज डिवाइस के नाम से जानते हैं . जैसे मनुष्य बिना मस्तिष्क के किसी काम का नहीं होता , वैसे ही कंप्यूटर भी बिना मेमोरी के आपके किसी भी प्रयोग में नहीं लाया जा सकता है

कंप्यूटर के अंदर कितने प्रकार की मेमोरी होती है ?

कंप्यूटर के अंदर मुख्यतः तीन प्रकार की मेमोरी होती है , जो इस प्रकार निम्नलिखित है .

1 . primary memory

2 . secondary memory

3 . Cache memory

ध्यान दें :- कंप्यूटर में मौजूद रैम और रोम को हम प्राइमरी मेमोरी के नाम से भी जानते हैं . यदि आप डेक्सटॉप यूज़ करते हैं , तो आप अपने डेक्सटॉप का रैम और रोम दोनों बढ़ा सकते हैं . आपका कंप्यूटर बिना रैम और रोम के निष्क्रिय होता हैं .